देशद्रोही कन्हैया को बेल देने पर दिल्ली पुलिस को आपत्ति नहीं

203

kanhaiya_kumar
जेएनयू विवाद मामले में पटियाला हाउस कोर्ट ने कन्हैया कुमार को 2 मार्च तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। आज जब कन्हैया कुमार को कोर्ट में पेश किया जा रहा था तो वकीलों के समूह ने उन पर हमला कर दिया था, हालांकि पुलिस ने उन्हें बचा लिया | अपने रुख़ में अचानक बदलाव करते हुए दिल्ली पुलिस कमिश्नर बीएस बस्सी ने कहा है कि अगर कन्हैया कुमार की ओर से ज़मानत की अर्ज़ी दी जाती है तो दिल्ली पुलिस को उस पर कोई आपत्ति नहीं होगी.
इससे पूर्व निचली अदालत में मचे हंगामे के बाद सुप्रीम कोर्ट ने पटियाला हाउस कोर्ट को कन्हैया कुमार केस की सुनवाई टालने का कहा था। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने पुलिस को पटियाला हाउस कोर्ट परिसर को पूरी तरह खाली कराने का आदेश दिया है। कोर्ट ने पांच वकीलों और एक पुलिस अधिकारी की टीम बनाई है, जो तुरंत पटियाला हाउस कोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था की जांच करेगी और रिपोर्ट सौंपेगी। इस टीम में दुष्यंत दवे, एके सिन्हा, कपिल सिब्बल, एडी राव, हरिन रावल और राजीव धवन के नाम शामिल हैं।
जेएनयू मामले में दिल्ली पुलिस ने पूरी घटना की परिस्थितियों के आधार पर रिपोर्ट बनाई है। इस रिपोर्ट में यूनिवर्सिटी की गतिविधियों को लेकर जानकारी दी गई है। रिपोर्ट में लिखा गया है कि अफजल गुरु की बरसी मनाई जा रही थी। यह भी कहा गया है कि आपत्तिजनक नारे लेफ्ट से जुड़े छात्र संगठनों ने लगाए। रिपोर्ट में कहा गया है कि भरोसेमंद सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार वहां मौजूद था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here