जरा संभलकर कहीं सस्ते स्मार्टफोन के चक्कर में न हो जाएँ ठगी का शिकार !

328

phone
जी हाँ ये हो सकता है कि 251 में स्मार्टफोन देने के नाम पर आपके साथ छल भी हो सकता है BJP सांसद किरीट सोमैया ने भी दुनिया के सबसे सस्ते स्मार्टफोन Freedom 251 को एक बहुत बड़ा घोटाला होने की आशंका जताते हुए कहा है की यह कंपनी 251 रुपए के नाम पर उपभोक्ताओं को ठगने का काम कर रही है।
सोमैया के मुताबिक फ्रीडम 251 स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी रिंगिग बेल ने महज तीन महीने पहले ही अपना पंजीयन करवाया है। इसके अलावा अभी तक उसके मालिक के नाम का भी खुलासा नहीं हुआ है।
उन्होंने कहा कि Freedom 251 स्मार्टफोन के मान पर कंपनी लोगों से जबरदस्त पैसा वसूल रही है। इसके अलावा कंपनी का कोई मैन्यूफैंक्चरिंग यूनिट भी नहीं है जिससे यह पता चले कि आखिर इसका उत्पादन कैसे हो रहा है।
सोमैया ने बताया कि यह एक बहुत बड़ा पॉन्जी स्कैम बनकर सामने आएगा। कई नामी कंपनियां इतना सस्ता स्मार्टफोन देने में नाकाम है फिर तीन महीने पुरानी कंपनी महज 251 रुपए में स्मार्टफोन कैसे दे सकती है।
उन्होंने कहा कि इस फोन के बारे में ट्राई निदेशक से शिकायत की गई है। इसके अलावा सरकार के प्रतिनिधियों से उन्होंने अपील की कि वे इस तरह के किसी कार्यक्रम में सम्मिलित न हो। इस दौरान उन्होंने ऑनलाइन सर्वे कंपनी ‘स्पीकएशिया’ का जिक्र करते हुए कहा कि वो कंपनी भी लोगों का पैसा लेकर भाग गई थी। फ्रीडम 251 के मामले में भी ऐसा ही होगा।
इसकी अधिकृत वेबसाइट जहाँ से इसे बेचा जाना था उसका भी न खुलना कुछ इसी और इंगित करता है साईट खुल भी रही है तो शिपिंग एड्रेस से आगे नहीं बढ़ रही | कुछ जानकार तो ऐसी आशंका भी जता रहे हैं कि उपभोक्याओं के नाम नंबर और इ-मेल पते को भी इसके द्वारा एकत्रित करके टेलीमार्केटिंग कम्पनीज को बेचा जा सकता है |
बहरहाल किस बात में कितनी सच्चाई है ये तो समय ही बताएगा लेकिन हम इतना जरुर कहना चाहेंगे जरा संभलकर |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here