अब तो आतंकियों ने भी माना भारत में मुस्लिमों की स्थिति बेहतर

242

jihad-ajeej
सऊदी अरब की जेल से 10 साल की सजा काटकर लौटे जेहादी अब्दुल अजीज ऊर्फ गिद्दाह ने माना है कि भारत के मुसलमान अच्‍छी हालत में हैं। उसने कहा था कि भारत में हमलों की जरूरत नहीं है क्योंकि वहां के मुसलमानों की हालत काफी अच्छी है।
अजीज सउदी अरब के पूर्वी हिस्से में तेल प्रतिष्ठानों को उड़ाने की योजना पर काम कर रहा था. इसके साथ ही वह अन्य आतंकी गतिविधियों में शामिल था. इस आतंकी को 2005 में सऊदी अरब ने अरेस्ट किया था. वह इराक से जेद्दाह जाकर अमेरिकी बलों से लड़ने की योजना बना रहा था.अब्दुल अजीज उर्फ गिद्दाह एक दशक पहले आंध्र प्रदेश में ब्लास्ट की साजिश रचने का आरोपी है। सऊदी अरब ने 10 साल की जेल काटने के बाद इस महीने की शुरुआत में उसे भारत भेज दिया गया।
1997 में अजीज को उसके हैंडलर मोहम्मद इस्माइल और पाकिस्तानी लश्करे तैयबा के ऑपरेटिव सलीम जुनैद भारत में जिहाद के लिए तैयार कर रहे थे. तब अजीज ने इनसे कहा था कि भारत में इसकी जरूरत नहीं है. उसने कहा था भारत में मुस्लिमों की स्थिति दुनिया के दूसरे मुल्कों से खराब नहीं है. हालांकि बाद में सऊदी बेस्ड एनजीओ इंटरनेशनल इस्लामिक रिलीफ ऑर्गेनाइजेशन के डायरेक्टर शेख अहमद इसे समझाने में कामयाब हो गया था. अजीज 9.5 लाख रुपये के लिए भारत खिलाफ युद्ध करने के लिए राजी हो गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here