जॉनसन एंड जॉनसन के पाउडर से महिला को हुआ कैंसर, कोर्ट ने लगाया 494 करोड़ का जुर्माना

443

johnson
क्या हो जब बच्चों को लगाए जाने वाले उत्पाद से किसी महिला को कैंसर हो जाए। बच्चों के प्रोडक्ट बनाने वाली कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन को अमेरिका की एक अदालत ने फार्मास्‍युटिकल की बड़ी कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन को 5.1 करोड़ पाउंड हर्जाना एक महिला के परिवार को देने के आदेश दिए गए हैं। महिला की मौत की वजह कंपनी के बेबी पावडर था। । जे एंड जे के पाउडर से महिला को कैंसर हो गया था | बाद में उसकी इसी बीमारी से मौत हो गई। परिवार वालों के अनुसार, महिला जॉनसन एंड जॉनसन के बेबी पाउडर और शावर टु शावर का इस्तेमाल कई सालों से कर रही थी। सोमवार की देर रात को कोर्ट ने जुर्माने का फैसला सुनाया।
वकीलों ने बताया कि यह फैसला अमेरिकी न्‍यायाधीशों की ओर से पहली बार किसी मामले में क्षतिपूर्ति के रूप में दिया गया है। जॉनसन एंड जॉनसन के खिलाफ सैकड़ों केस दर्ज कराए गए हैं, जिनमें दावा किया गया है कि वह दशकों से ग्राहकों को यह नहीं बता रहा है‍ कि उसके टैल्‍क बेस्‍ड प्रोडक्‍ट (पावडर) से कैंसर हो सकता है।

ब्रिमिंघम में रहने वाली फॉक्‍स ने दावा किया था कि ओवर‍िएन कैंसर का पता लगने से पहले वह बेबी पावडर और शॉवर का इस्‍तेमाल पिछले 35 वर्षों से करती आ रही हैं। 62 वर्ष की उम्र में उनकी मौत कैंसर से हो गई थी। जजों ने पाया कि इस फ्रॉड, षड्यंत्र और लापरवाही के लिए जॉनसन एंड जॉनसन जिम्‍मेदार है।

तीन सप्‍ताह के ट्रायल के बाद जिरह चार घंटों तक चली। फॉक्‍स परिवार के वकील जेरी बीएसले ने कहा कि जॉनसन एंड जॉनसन को 1980 के दशक से इस खतरे के बारे में जानकारी थी। इसके बावजूद वह लोगों से और‍ नियामक एजेंसियों से झूठ बोलता रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here