मैं पिंच हिटर नहीं बल्कि मुकम्मिल बल्लेबाज हूं : पंड्या

493

hardik
आक्रामक बल्लेबाजी उसकी स्वाभाविक शैली है लेकिन भारतीय हरफनमौला हार्दिक पंड्या ने कहा कि वह सिर्फ पिंच हिटर नहीं बल्कि मुकम्मिल बल्लेबाज हैं ।

बांग्लादेश के खिलाफ एशिया कप के पहले मैच में 18 गेंद में 31 रन बनाने वाले पंड्या की कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भी तारीफ की ।

पंड्या ने कहा ,‘‘ यह मेरी शैली है और मैं ऐसे ही खेलता आया हूं । मुझे कभी पिंच हिटर के रूप में नहीं भेजा गया । मेरा मानना है कि मैं मुकम्मिल बल्लेबाज हूं । यही वजह है कि मुझे किसी ने किसी खास शैली में बल्लेबाजी के लिये नहीं बोला । यह अच्छी बात है कि मैं उस रफ्तार से बल्लेबाजी कर पा रहा हूं जिसकी टीम को जरूरत है ।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे नहीं पता कि आक्रामक बल्लेबाजी का शउर मैने कहां से सीखा । बचपन से मेरी आदत छक्के लगाने की थी । मैं हमेशा गेंद को पीटना चाहता था ।’’ पंड्या ने कहा ,‘‘ जब मैं 16 या 17 साल का था तब भी छक्के लगाना मेरा शौक था । मुझे लगता था कि पहली गेंद से ही मुझे छक्का लगाना है । मैने अभी तक ऐसी ही क्रिकेट खेली है । कई बार यह कामयाब रहता है तो कई बार नहीं ।’’ उन्होंने कहा कि उनका कोई रोल माडल नहीं है लेकिन उन्हें दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स और धोनी की बल्लेबाजी पसंद है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here