सचिन और मेरे मुकाबले की तरह है कोहली-आमिर की जंग : शोएब अख्तर

248

shoib
ईडन गार्डन्स से लेकर सेंचुरियन तक शोएब अख्तर को सचिन तेंदुलकर के साथ मैदानी जंग के कई यादगार मुकाबले याद हैं और उनका मानना है कि मोहम्मद आमिर और विराट कोहली का आमना सामना भी क्रिकेट इतिहास के कुछ विशेष मुकाबलों में गिने जाएंगे।

अख्तर ने पीटीआई से कहा, “सचिन के लिये गेंदबाजी करना चुनौती होता है और मेरा मानना है कि विराट और आमिर के बीच भविष्य में मैदान पर रोमांचक प्रतिद्वंद्विता देखी जाएगी। ये दोनों विश्वस्तरीय खिलाड़ी है और जब ये दोनों एक दूसरे के आमने सामने होंगे तो इससे बेहतर नजारा कुछ नहीं हो सकता है। ’’

उन्होंने कहा, “विराट भारत का सर्वश्रेष्” बल्लेबाज है और आमिर के शामिल होने से पाकिस्तान का आक्रमण बेहतरीन बन गया है। जब भी ये दोनों एक दूसरे के आमने सामने होंगे तो फिर मजा आने वाला है। ’’अख्तर को खुशी है कि आमिर अपने पिछले दिनों से उबर गया है और यह पाकिस्तानी क्रिकेट के लिये फायदे वाली बात है। उन्होंने कहा, “जो बीत गयी वो बीत गयी। यह अच्छा अहसास है कि दुनिया का सर्वश्रेष्” गेंदबाज फिर वहां लौट आया है जहां उसे होना चाहिए था। आमिर को बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए देखकर मुझे बहुत खुशी हुई। दिल को एक तसल्ली होती है उसे देखकर। ’’अख्तर ने कहा, “हमें अपने गेंदबाजी विभाग में थोड़ा अधिक आक्रामक होने की जरूरत है। आमिर को अन्य से भी मदद की जरूरत है और वहाब रियाज को इसके लिये आगे आना होगा। ’’

उन्होंने हालांकि कोहली की जमकर तारीफ की और उन्हें वर्तमान समय का सर्वश्रेष्” बल्लेबाज करार दिया। अख्तर ने कहा, “विराट कोहली निश्चित तौर पर वर्तमान समय का सर्वश्रेष्” बल्लेबाज है। उसकी मैच को फिनिश करने की क्षमता अनुकरणीय है। यदि आप मुझसे पूछोगे कि क्या उसकी तुलना जावेद मियादाद से करनी चाहिए जो खुद अच्छे फिनिशर थे तो मैं कहूंगा कि दो अलग अलग पीढ़ियों के खिलाड़ियों की तुलना नहीं करनी चाहिए। कल विराट ने जिस तरह से बल्लेबाजी की उससे उसने दिखाया कि वह अलग तरह का बल्लेबाज क्यों है। वह सच्चा चैंपियन है और उसने आमिर की गेंदबाजी की भी तारीफ की जो अच्छी बात है। ’’उन्होंने पाकिस्तान की गेंदबाजी को भारत से बेहतर बताया लेकिन साथ ही कहा कि जसप्रीत बुमराह का भारतीय टीम से जुड़ना अच्छा रहा। अख्तर ने कहा, “जसप्रीत बुमराह के आने से भारतीय गेंदबाजी को फायदा हुआ है। वह बेहद प्रतिभाशाली युवा खिलाड़ी है जिससे निखारा जा सकता है। बुमराह की गेंदबाजी की जिस बात से मैं प्रभावित हुआ वह उसका नियंत्रण है। डेथ ओवरों में गेंदबाजी करते समय उसका अपनी गेंदबाजी पर काफी नियंत्रण रहता है। ’’उन्होंने कहा, “इसके अलावा वह यार्कर कर सकता है और इससे भारतीय टीम को फायदा हुआ है। भारतीय गेंदबाजी अब पहले की तुलना में बेहतर हो गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here