शेयरों में उछाल जारी, सेंसेक्स और 464 अंक मजबूत

572

sensex
बाजार में आज लगातार दूसरे दिन तेजी रही और बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 464 अंक उछलकर 24,243 अंक पर बंद हुआ जो एक माह का उच्चतम स्तर है। रिजर्व बैंक द्वारा बैंकों पूंजी के न्यूनतम स्तर की गणना के नियमों को उदार बनाने के बाद बैंक शेयरों में आज अच्छी तेजी देखी गयी।

तीस शेयरों वाला सेंसेक्स मजबूती के साथ खुला और अंत में 463.63 अंक या 1.95 प्रतिशत की तेजी के साथ 24,242.98 अंक पर बंद हुआ। आठ फरवरी के बाद यह उच्चतम स्तर है।

सेंसेक्स कल 777.35 अंक मजबूत हुआ था। इस प्रकार, पिछले दो दिनों में सेंसेक्स में 1,240 अंक से अधिक की तेजी आ चुकी है।

पचास शेयरों वाला नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 146.55 अंक या 2.03 प्रतिशत मजबूत होकर 7,368.85 अंक पर बंद हुआ।

केंद्रीय बैंक ने बैंकों को बासेल-तीन नियमों के तहत पूंजी आधार की गणना में जो ढील दी है उससे बैंकों में रिण के लिए 35,000 करोड़ रपए की पूंजी मुक्त होगी। तेल कीमतों में तेजी और अमेरिका में मजबूत आर्थिक आंकड़ों से एशियाई बाजारों में सकारात्मक रूख रहा।

डालर के मुकाबले रपये में मजबूती से भी धारणा मजबूत हुई। कारोबार के दौरान रपया 67.59 पर आ गया था।

कारोबारियों के अनुसार सरकार के राजकोषीय घाटे के लक्ष्य पर कायम रहने से धारणा सकारात्मक हुई है। इससे उम्मीद है कि रिजर्व बैंक इस महीने किसी भी समय नीतिगत दर में कटौती कर सकता है।

वित्त मंत्री अरूण जेटली ने 2016-17 के लिये राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को जीडीपी के 3.5 प्रतिशत पर बरकरार रखा है।

रिजर्व बैंक ने बही-खाते के और मदों को साझा इक्विटी पूंजी के रूप में मान्यता दी है। इससे बैंकों के लिये 35,000 करोड़ रपये तक राशि बढ़ेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here