कन्हैया सहित 21 छात्र दोषी- जाँच समिति

222

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में नौ फरवरी को आतंकी अफजल गुरु की बरसी पर आयोजित कार्यक्रम के लिए उच्चस्तरीय जांच समिति ने छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया समेत 21 छात्रों को दोषी माना है। साथ ही कन्हैया, उमर खालिद, अनिर्बान और दो अन्य छात्रों को निकालने की सिफारिश की है।

जांच समिति ने सभी को कारण बताओ नोटिस जारी कर 16 मार्च तक जवाब मांगा है। समिति ने शुक्रवार को अपनी रिपोर्ट विश्वविद्यालय के कुलपति एम. जगदेश कुमार को सौंपी थी। पांच सदस्यीय समिति ने अपनी अनुशंसा जेएनयू के अनुशासन और सही व्यवहार से संबंधित नियमों के आधार पर की है। कमेटी की अनुशंसा के बारे में विश्वविद्यालय के कुलपति ने डीन कमेटी को अवगत करा दिया है। चीफ प्रोक्टर आगे की कार्रवाई करेंगे।

सूत्रों के मुताबिक, जिन 21 छात्रों को दोषी माना है उनमें छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार, संयुक्त सचिव सौरभ शर्मा, उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य शामिल हैं।
ये भी पढ़ें-जानिए भारत के 10 अदभुद और विचित्र मंदिरों के बारे में
इस पर एबीवीपी के सौरभ शर्मा ने कहा, मैं समिति के निर्णय का स्वागत करता हूं और जेएनयू प्रशासन से मांग करता हूं कि जांच रिपोर्ट को लोगों के सामने रखा जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here