शनि मंदिर में महिलाओं के लिए प्रतिबंधित क्षेत्र में घुसने वाली तृप्ति देसाई हाजी अली दरगाह में वहीँ तक जा सकीं जहाँ तक महिलाएं जा सकती हैं

205

tripti-desai
कड़ी पुलिस सुरक्षा के बीच भूमाता ब्रिगेड की तृप्ति देसाई गुरुवार की सुबह हाजी अली दरगाह पहुंची। वह मज़ार समेत उन जगहों पर नहीं गईं जहां जाने की हाजी अली ट्रस्ट ने इजाज़त नहीं दी है। इससे पहले 28 अप्रैल को तृप्ति देसाई ने हाजी अली दरगाह में जाने की कोशिश की थी लेकिन उन्हें रोक दिया गया था। कई संगठनों ने भी इसका विरोध किया था। इसके बाद तृप्ति देसाई को वापस लौटना पड़ा था। वहीं आज दरगाह जाने पर तृप्ति देसाई ने कहा है कि उन्होंने महिलाओं के लिए दरवाज़े खोलने की दुआ मांगी है।

उल्‍लेखनीय है कि इससे पहले तृप्ति ने ऐलान किया था कि वह अब बिना बताए हाजी अली दरगाह में घुसने की तैयारी में हैं। तृप्ति देसाई ने पुणे में मीडिया कर्मियों से बातचीत में यह जानकारी दी थी। देसाई ने इस संदर्भ में भूमाता ब्रिगेड के मुम्बई के कार्यकर्ताओं से बातचीत भी की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here