कोहली-डिविलियर्स दोनों की सेंचुरी, टूट गए कई रिकॉर्ड

194

Virat-Kohli-AB-de-Villiers
बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने शनिवार (14 मई) को इंडियन प्रीमियर लीग मैच में गुजरात लायंस को 144 रन से हरा दिया। विराट कोहली (55 गेंदों में 109 रन) और एबी डिविलियर्स (52 गेंद में 129 रन नाबाद) की बदौलत बेंगलुरु ने 248 रन का स्कोर खड़ा किया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी गुजरात लायंस की टीम 18.4 ओवर में 104 रन ही बना सकी। इस मैच में कई रिकॉर्ड्स बने।
एक नज़र आज बने रिकॉर्ड्स पर:
यह आईपीएल लीग के इतिहास की सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले सबसे बड़ी जीत केकेआर के नाम थी, जिसने 2008 में पहले आईपीएल के शुरुआती मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को 140 रन से पराजित किया था। बेंगलुरु ने बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद तीन विकेट पर 248 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया जो आईपीएल का दूसरा सबसे बड़ा स्कोर था। रॉयल चैलंजर्स बेंगलूर के नाम ही आईपीएल इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर है जो उसने 2013 में पुणे वॉरियर्स के खिलाफ पांच विकेट पर 263 रन बनाया था। विराट कोहली और एबी डिविलियर्स ने दूसरे विकेट के लिए 16 ओवर में 229 रन की भागीदारी निभाई जो टी20 इतिहास की सबसे बड़ी साझेदारी है। विराट कोहली और एबी डिविलियर्स की एक आईपीएल सत्र में सबसे ज्यादा चौथी शतकीय साझेदारी भी है।
इससे पहले इन दोनों ने 2012 तथा शिखर धवन और गौतम गंभीर ने 2008 में तीन-तीन शतकीय साझेदारियां बनाई थीं। आईपीएल की पिछली सर्वश्रेष्ठ साझेदारी भी इन दोनों बल्लेबाजों के नाम थी जो इन दोनों ने 2015 में (215 रन) मुंबई इंडियंस के खिलाफ बनायी थी। टी20 क्रिकेट में दो दोहरी शतकीय साझेदारियां बनाने वाली यह एकमात्र जोड़ी है। डिविलियर्स ने आईपीएल में पांचवां सबसे तेज शतक जड़ा, उन्होंने 43 गेंद का सामना करते हुए नौ चौके और आठ छक्के से सैकड़ा पूरा किया। आईपीएल का सबसे तेज शतक गेल ने 2013 में बनाया था जिसमें उन्होंने 30 गेंद में 100 रन बनाये थे।
एबी डिविलियर्स 52 गेंद में 10 चौके और 12 छक्के जड़कर 129 रन बनाकर नाबाद रहे। उन्होंने आईपीएल में 3000 रन पूरे किए, यह उपलब्धि हासिल करने वाले वे तीसरे विदेशी और नौवें क्रिकेटर बन गए हैं। यह दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर एक पारी में सबसे ज्यादा छक्के जड़ने वाला खिलाड़ी भी बन गया। विराट कोहली ने 53 गेंद में पांच चौके और सात छक्के से 100 रन पूरे किए। वह आईपीएल इतिहास में लीग के एक सत्र में एक ही टीम के खिलाफ दो शतक जड़ने वाले पहले खिलाड़ी बन गए। यह उनका एक आईपीएल सत्र में तीसरा शतक भी है। उन्होंने 55 गेंद में चार चौके और आठ छक्के से 109 रन बनाए। गुजरात के सभी गेंदबाजों की डिविलियर्स और कोहली ने खूब धुलायी की, जिसमें शिविल कौशिक ने तीन ओवर में 50 रन लुटाए।
आईपीएल में पहली बार दो ओवरों में 30-30 रन बने। डिविलियर्स और कोहली ने ड्वेन ब्रावो के 18वें और कौशिक के 19वें ओवर में 30-30 रन जोड़े। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने पारी के अंतिम पांच ओवर में 112 रन जुटाए जो आईपीएल में किसी टीम द्वारा सबसे ज्यादा जुटाए गए रन हैं। शुरुआती दस ओवर में बेंगलुरु का स्कोर 1 विकेट के नुकसान पर 76 रन था, जबकि आखिरी के 10 ओवर में 172 रन जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here