मोदी की दो टूक- हमने 37 हजार करोड़ रुपये का भ्रष्टाचार रोका, जिन्होंने खाया उन्हें तकलीफ होगी

533

modi-29-05-2016
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि राजग के दो साल के कार्यकाल में अब तक 37 हजार करोड़ रुपये का भ्रष्टाचार रुका है। ये सिर्फ दो साल के लिए नहीं है, ये हर साल बचेगा। उन्होंने कहा कि दो साल बाद सरकार में नया विश्वास पैदा हुआ है। पिछली सरकार भ्रष्टाचार से संक्रमित थी, लेकिन हमारे सत्ता में आने के बाद इसको खत्म करने पर जोर दिया गया। उन्होंने कहा कि पिछली और मौजूदा सरकार के काम को परखेंगे तो पता चलेगा कि बदलाव कितना बड़ा हुआ है।

मोदी सरकार के दो साल पूरे होने के मौके पर नई दिल्ली के इंडिया गेट पर आयोजित कार्यक्रम नई सुबह में उन्होंने कहा कि लोग अब कहते हैं कि इतना काम करने के बाद भी विरोध क्यों होता है। उन्होंने कहा कि जिनकी जेब में 36000 करोड़ जाता था, जो रोक दिया गया वह मोदी को गाली नहीं देगा तो क्या देगा।

उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ बहुत ही व्यवस्थित तरीके से एक के बाद एक कदम उठाया गया है। उन्होंने कहा कि पहले की सरकार में क्या हुआ और आज क्या हुआ इसकी तुलना जरूरी है। दो साल पहले तक पूर्व की सरकार भ्रष्टाचार के खबरों से घिरी हुई थी। मोदी ने कहा, ‘‘मुद्दों के आधार पर तथ्यों के आधार पर हर काम का कठोरता से मूल्यांकन लोकतंत्र के लिए आवश्यक है, लेकिन कहीं हम ऐसी गलती न कर दें जो बिना कारण देश को निराशा की गर्त में धकेलने का प्रयास करे। ’’

मोदी ने कहा कि एलईडी बल्ब के कारण देश में 20 हजार मेगावाट बिजली की बचत हुई है। एलईडी बल्ब की कीमत घटकर 60-70 रुपये तक आ गई है। उन्होंने कहा कि फर्जी केरोसीन तेल लेने वालों के नाम सामने आए, अकेले एक राज्य से इस ओर कई सौ करोड़ रुपये बचा। फर्जी टीचर पर वेतन के लिए पैसे जाते थे। उन्होंने कहा, ‘‘हमने अब तक एक करोड़ 62 लाख फर्जी राशन कार्ड का पता लगाया। डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर स्कीम से भ्रष्टाचार खत्म हुआ।’’

उन्होंने कहा कि अकेले रसोई गैस में इतने फर्जी नाम निकले कि करीब करीब 15 हजार करोड़ रुपया बचा लिया गया। मोदी ने कहा कि देश को भ्रष्टाचार ने दीमक की तरह भीतर से खोखला कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here