बिहार बोर्ड: रिव्यू में साइंस टॉपर फेल, बोला-ऐसे सवाल न करिए, वरना सुसाइड कर लूंगा

322

saurabh
बिहार एजुकेशन बोर्ड ने 12th के साइंस टॉपर सौरभ श्रेष्ठ और थर्ड टॉपर राहुल के रिजल्ट को रद्द कर दिया है। स्टिंग ऑपरेशन में जब ये टॉपर्स अपने सब्जेक्ट्स के बेसिक सवालों का जवाब नहीं दे पाए थे, तब बोर्ड ने उनका रिव्यू टेस्ट करने का फैसला किया था। रिव्यू के दौरान सवालों से झल्लाए सौरभ ने कहा- ”ऐसे सवाल न करिए, वरना सुसाइड कर लूंगा।” वहीं, बोर्ड ने पॉलिटिकल साइंस को प्रोडिकल साइंस बताने वाली आर्ट्स टॉपर रूबी राय को एक मौका और दिया है। फॉर्मूला पूछा तो क्या बोला टॉपर…​
– रूबी शुक्रवार को अपना रिव्यू टेस्ट देने नहीं पहुंची थी। उसके पिता एक लेटर लेकर पहुंचे थे।
– इसमें रूबी के डिप्रेशन में होने की बात कही गई थी।
– रूबी को अब 11 जून को बोर्ड के सामने पेश होना होगा।
– सरकार ने टॉपरों के स्कूल विशुन नारायण कॉलेज की मान्यता को भी रद्द कर दी है।
टॉप-5 में आए स्टूडेंट्स का हुआ इंटरव्यू
– कम एलिजिबल स्टूडेंट्स के टॉप करने के विवाद के बाद बिहार बोर्ड ने टॉप 5 में आए स्टूडेंट्स का इंटरव्यू लेने का फैसला किया था।
– एक मौका ऐसा भी आया, जब कमेटी के एक्सपर्ट्स चौंक गए।
– दरअसल जब एक एक्सपर्ट ने साइंस टॉपर सौरभ श्रेष्ठ से सवाल किया कि कैलकुलस के इंटीग्रेशन बाई पार्ट्स का फार्मूला बताइए तो जवाब देने की जगह सौरभ ने कहा, ऐसे सवाल न करिए, वरना मैं यहीं सुसाइड कर लूंगा।
– उसने कहा, ”पिछले तीन-चार दिनों में मुझे काफी मानसिक परेशानी झेलनी पड़ी है। अब मैं जवाब देने की स्थिति में नहीं हूं।”
– सौरभ के जवाब से एक्सपर्ट्स भी घबरा गए। उसके बाद तुरंत पानी मंगाकर पिलाया गया।
– धमकी के बाद इंटरव्यू पैनल ने हिचक के साथ कुछ सवाल पूछे और उसे शांत कराकर बाहर भेजा।
हर स्टूडेंट से पूछे गए 25 से 30 सवाल

– 15 एक्सपर्ट्स में से 12 सब्जेक्ट एक्सपर्ट और तीन डिसिप्लिनरी कमेटी के मेंबर थे।
– एक पैनल साइंस के टॉपर्स का एक्जाम ले रहा था तो एक आर्ट्स के टॉपरों का।
– हर स्टूडेंट का एक घंटे से ज्यादा समय तक इंटरव्यू लिया गया। 25 से 30 सवाल पूछे गए।
– इसके बाद सवालों का जवाब भी लिखने को कहा गया। इंटरव्यू दोपहर 3:15 बजे से रात 10:30 बजे तक चला।
एक स्टिंग ऑपरेशन के चलते हुआ था विवाद
– टॉपर्स बने स्टूडेंट्स का विवाद एक स्टिंग ऑपरेशन के चलते शुरू हुआ था।
– एक चैनल के स्टिंग ऑपरेशन में वैशाली जिले के बीएन कॉलेज के साइंस टॉपर सौरभ श्रेष्ठ और आर्ट्स टॉपर रूबी राय से बातचीत की गई थी।
– रूबी और सौरभ से सब्जेक्ट से जुड़े सवाल पूछे गए थे, लेकिन वे इसका सही जवाब नहीं दे पाए।
– रूबी को तो यह भी पता नहीं था कि कितने नंबर का एग्जाम हुआ है।
पढ़ाई कर नंबर लाया है, फिर डर किस बात का
– टॉपर्स की लिस्ट में चौथे नंबर पर आईं तैयबा प्रवीण ने कहा, “मैंने पढ़ाई के बाद एग्जाम में मार्क्स लाए हैं।”
– “मुझे किसी भी परीक्षा से कोई डर नहीं है।” तैयबा के साथ पहुंची उनकी मां ने कहा कि मेरी बेटी जाहिल नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here