हिलेरी क्लिंटन ने रचा इतिहास, अमेरिका में पहली महिला राष्ट्रपति उम्मीदवार बनीं

217

hill-11-new_1465360757
अमेरिका में राष्ट्रपति पद की दौड़ में पहली बार किसी प्रमुख पार्टी की उम्मीदवार बनकर इतिहास रचने जा रहीं हिलेरी क्लिंटन ने न्यूजर्सी और न्यू मैक्सिको प्राइमरी में निर्णायक जीत के बाद आज राष्ट्रपति पद के डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवारी की दावेदारी की. उल्लेखनीय है कि कल समाचार एजेंसी एपी ने सबसे पहले खबर दी कि हिलेरी क्लिंटन ने राष्ट्रपति पद के डेमोक्रेटिक उम्मीदवारी के लिए जरूरी डेलिगेट का समर्थन हासिल कर लिया है. बाद में हिलेरी क्लिंटन भी अपने चुनाव अभियान में यह कहती दिखीं थी कि खबरों के अनुसार हमने राष्ट्रपति उम्मीदवारी के लिए जरूरी डेलीगेट्स जुटा लिये हैं. हालांकि आधिकारिक रूप से अमेरिका में जुलाई में राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार दोनों पार्टियों द्वारा घोषित किया जायेगा. लेकिन, डेमोक्रेट हिलेरी व रिपब्लिकन डोनाल्ड ट्रंप को मिली बढ़त से यह लगभग साफ है कि मुकाबला इन्हीं दोनों के बीच होगा.

68 वर्षीया हिलेरी ने न्यूयार्क के ब्रूकलिन में अपने प्रचार अभियान के मुख्यालय पर अपने समर्थकों से कहा, ‘‘आप सभी का शुक्रिया, हमने एक पड़ाव पार कर लिया है, हमारे देश के इतिहास में यह पहली बार है जब किसी प्रमुख पार्टी की उम्मीदवार कोई महिला होगी.’ डेमोक्रेटिक पार्टी का उम्मीदवार बनने के लिए जरूरी 2,383 डेलिगेट का समर्थन हासिल करने के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने हिलेरी को बधाई दी.

बहरहाल, ओबामा ने अपनी पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन का औपचारिक तौर पर समर्थन नहीं किया.

व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने एक बयान में कहा, ‘‘उनके ऐतिहासिक अभियान ने लाखों लोगों को प्रेरित किया है और यह मध्य वर्ग के परिवारों एवं बच्चों के लिए उनके आजीवन संघर्ष का विस्तार है.’ बयान के अनुसार, ‘‘डेमोक्रेटिक पार्टी के सदस्यों के लिए प्रेरणा बनने और उनमें ऊर्जा भरने’ के लिए ओबामा ने हिलेरी और डेमाक्रेटिक पार्टी में उनके प्रतिद्वंद्वी बर्नी सैंडर्स दोनों की तारीफ की.

इसके अनुसार, वरमोंट के सीनेटर सैंडर्स के अनुरोध पर कल अमेरिकी राष्ट्रपति व्हाइट हाउस में उनसे मुलाकात करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here