NSG पर भारत को तगड़ा झटका, कई देशों ने किया विरोध

386

nsg
न्यूक्लियर सप्लाइर्ज ग्रुप में शामिल होने के भारत के प्रयासों को गुरुवार को तगड़ा झटका लगा है। ब्राजील, आस्ट्रिया, आयरलैंड, तुर्की और न्यूजीलैंड ने भारत को ये झटका दिया। इन देशों ने भारत को एनएसजी में शामिल किए जाने का विरोध जताया है। इस विरोध के बीच भारत के इस अति महत्वपूर्ण ग्रुप में शामिल होने पर गतिरोधि फिर कायम हो गया है।

हालांकि मेक्सिको ने भारत का समर्थन कर एनएसजी में शामिल किए जाने पर अपनी सहमति जताई है। मैक्सिकन राजदूत ने इस समर्थन की घोषणा की। गौर हो कि आज ही ताशकंद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति से मुलाकात कर एनएसजी में सहयोग देने की बात की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से अनुरोध किया था कि भारत के आवेदन का निष्पक्ष और उद्देश्यपरक मूल्यांकन किया जाए। एनएसजी 48 देशों का संगठन है और 1974 के पोखरण परमाणु परीक्षण के बाद इसका गठन हुआ। इस बीच चीन के विरोध की भी खबरें आई हैं। उधर, पाकिस्तान ने चीन के विरोध का स्वागत किया।

पाकिस्तान के नाम पर चर्चा भी नहीं हुई
दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में विशेष सत्र हुआ। इसमें हमारे पड़ोसी पाकिस्तान की एनएसजी में एंट्री को लेकर कोई चर्चा तक नहीं हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here