PM बनने के बाद मोदी का पहला इंटरव्यू,कहा जवान जिस भाषा में चाहे पाक को जवाब दें

210

modi-and-arnab-goswami-620x400
केंद्र के मोदी सरकार के दो साल पूरे होने पर विकास पर्व मना रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार भारतीय मीडिया को अपना पहला इंटरव्यू दिया है। पीएम बनने के बाद ये मोदी की भारतीय मीडिया का पहला इंटरव्यू है। पीएम मोदी ने अंग्रेजी टीवी न्यूज चैनल ‘टाइम्‍स नाउ’ के एडिटर इन चीफ अर्नव गोस्वामी के साथ बातचीत की। इस इंटरव्यू के दौरान पीएम मोदी ने पाकिस्तान से लेकर स्वामी तक को खरी-खरी सुनाई। पीएम ने भारत की विदेश नीति, एनएसजी और पाकिस्तान के साथ संबंधों को लेकर खुलकर बात की। पढ़ें इंटरव्यू के मुख्य अंश…

कांग्रेस के हंगामे पर:
जब लोग विपक्ष कहते हैं तो यह विपक्ष के साथ अन्याय होगा। संसद में कई पार्टियां हैं जो भाजपा या एनडीए के साथ नहीं हैं लेकिन जरूरी मसलों पर सरकार के साथ है। केवल एक पार्टी समस्‍या खड़ी कर रही है। पूरी दुनिया उस पार्टी को जानती है

भड़काऊ बयान देने वाले नेता:
पहला तो मेरा दृढ़ विश्‍वास है कि देश को विकास के मुद्दे पर आगे बढ़ना चाहिए। मैं मीडिया से कहना चाहूंगा कि ऐसे लोगों को हीरो न बनाएं। उन्‍हें हीरो मत बनाओ वे चुप हो जाएंगे। मैंने ऐसे बयान देखें हैं वे लोग टीवी पर प्रवक्‍ता बन जाते हैं।

यूपी चुनावों को साम्‍प्रदायिक रंग देने पर:
मैंने 2014 का चुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ा। देश की नई पीढ़ी विकास में विश्‍वास करती है। मेरा मानना है कि सभी समस्‍याओं का हल विकास है। यदि हम लोगों को नौकरी देंगे, लोगों को भोजन मिलेगा तो सारा तनाव खत्‍म होगा।
बैंकों का पैसा न चुकाने वालों के भागने का मुद्दा:
कानून सबको पकड़ेगा। देश के लोगों को विश्‍वास है कि यदि कोई ऐसा कर सकता है तो नरेंद्र मोदी ऐसा करेगा। मैं इसे एक मौके के रूप में देखता हूं और मैं उन्‍हें दिखाऊंगा कानून क्‍या होता है। 15 लाख रुपये लोगों के पास आने का मुद्दा: यह मुद्दा विपक्ष के पास रहने दो। कुछ तो उनके पास होना चाहिए।
कालेधन की वापसी:
काला धन का मुद्दा इतना गंभीर क्‍यों हुआ, इसके बैकग्राउंड में जाना होगा। सामान्‍य आदमी को लगता है कि काला धन विदेश में जाता है। सुप्रीम कोर्ट के एसआईटी बनाने के आदेश को पुरानी सरकार ने तीन साल तक रोककर रखा। उस समय विपक्ष को लगा कि कुछ तो गलत है। दाल में काला है। लेकिन विदेशों से धन लाने के कुछ नियम है। हमारी कैबिनेट का पहला आदेश एसआईटी का गठन था। जी20 में मेरी पहली मीटिंग में काले धन पर पहली बार सहमति का माहौल बना। हम दुनिया के कई देशों से एग्रीमेंट कर रहे हैं। भारत से काला धन बाहर न जाए इस पर भी काम हो रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here