BMW ने 8 को रौंदा, 3 की मौत, आरोपी विधायक का बीटा गिरफ्तार

222

jaipur-accident

राजस्थान के एक निर्दलीय विधायक नंदकिशोर महरिया के नशे में धुत बेटे सिद्धार्थ ने शुक्रवार देर रात अपनी तेज रफ्तार बीएमडब्ल्यू कार से आठ लोगों को रौंद दिया। ऑटो सवार तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पुलिस वाहन में बैठे चार पुलिसकर्मी घायल हो गए। मामला शुक्रवार रात दो बजे का है और बताया जा रहा है कि दुर्घटना के वक्त महरिया की कार बेटा सिद्धार्थ चला रहा था। अब पुलिस ने विधायक के बेटे को गरिफ्तार कर लिया है।

इस दुर्घटना में घायल एक पुलिसवाले ने कहा ‘वह 100 किमो प्रति घंटे की रफ्तार से ड्राइव कर रहा था।’ घायल पुलिसकर्मी ने यह भी कहा कि लग रहा था कि 20 साल के सिद्धार्थ ने शराब पी रखी थी और इसकी पुष्टिकरण के लिए उसके ब्लड सैंपल को फोरेंसिक लैब भेजा जाएगा। हालांकि सिद्धार्थ ने इन आरोपों का खंडन किया है और कहा कि कार वो नहीं बल्कि उनका ड्राइवर चला रहा था।

 

सिद्धार्थ को बचाने के लिए उसके रिलेटिव और जानने वालों ने बताया कि कार ड्राइवर चला रहा था और उसे बुलाया जा रहा है। सिद्धार्थ भी मीडियाकर्मियों को यही बताता रहा कि कार वह खुद नहीं चला रहा था। इस दौरान पुलिस ने उसे अशोक नगर थाने में ही बिठाए रखा। इस बीच दोपहर करीब एक बजे एक युवक तेजी से थाने में आया और बोला कि कार को मैं चला रहा था। मैं दुर्घटना के बाद भाग गया था। जब पुलिसकर्मियों ने कहा कि हादसे के समय सिद्धार्थ ही कार चला रहा था और लोगों ने ही कार के पिछले हिस्से से उसे निकाला था। इस तरह के कई सवालों के बाद युवक सकपका गया और चार पांच मिनट बाद ही अचानक गायब हो गया। पुलिस ने लंबे समय तक सिद्धार्थ से पूछताछ की थी। जिसमें उसने खुद कार चलाने की बात कबूल कर ली।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here