एक पहाड़ी ऐसी भी जहां बंद गाड़ी भी अपने आप चढ़ने लगती है पहाड़ी पर

622

magnetic hill

सोचिए अगर आपने रात को गाड़ी जहां खड़ी की है सुबह उठे और आपको अपनी गाड़ी नहीं दिखाई दे, फिर क्या बीतेगा आप पर। आप पहली बार में यही सोचेंगे कि किसी ने आपकी गाड़ी चोरी कर ली है।

लेकिन अगर आप लद्दाख के लेह क्षेत्र में उस रहस्यमय पहाड़ी के आस-पास गाड़ी पार्क करते हैं और सुबह गाड़ी नहीं मिले तो समझ लीजिए किसी चोर ने नहीं बल्कि पहाड़ी ने आपकी गाड़ी को ऊपर खींच लिया। यह कैसे होता है यह एक रहस्य बना हुआ है।

 

क्या कहते हैं वैज्ञानिक ”
वैज्ञानिकों का मानना है कि इस पहाड़ी में चुंबकीय शक्ति है जो गाड़ियों को करीब 20 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से खींच लेती है। अगर आप इस पहाड़ी पर गाड़ी न्यूट्रल में खड़ी कर दें तब भी वह जैसे के तैसे खड़ी रहेगी। जबकि किसी दूसरी पहाड़ी पर ऐसा किया तो आपकी गाड़ी तेजी से नीचे उतरने लगेगी।

 

 यह पहाड़ी भारत के लेह से 30 किमी की दूरी पर लेह-कारगिल-श्रीनगर हाइवे पर  स्थित हैं।
इस पहाड़ी के पूर्वी हिस्से में सिंधु नदी भी बहती है ।
इस मैग्नेटिक हिल को ग्रैविटी हिल के नाम से भी जाना जाता है।
माना जाता है कि इस पहाड़ी पर गुरूत्वाकर्षण का नियम फेल हो जाता है।
गुरूत्वाकर्षण के नियम के अनुसार यदि हम किसी वस्तु को ढलान पर छोड़ दें तो वह नीचे की तरफ लुढ़केगी लेकिन चुंबकीय पहाड़ी पर ऐसा नही होता।
ऐसा माना जाता है कि यदि हम किसी कार में गियर डालकर छोड़ दें तो यह पहाड़ी  ढलान पर नीचे की ओर न जाकर ऊपर की ओर चढ़ती है।
यहां पर किसी तरल पदार्थ को बहाने पर वह नीचे की तरफ न जाकर ऊपर की तरफ बहता है।
यह लेह-लद्दाख का मैग्नेटिक हिल लोगो के आकर्षण का केंद्र भी हैं।
जिज्ञासु लोग यहां पर अपनी जिज्ञासा शांत करने के लिए भी पहुंचते हैं।
यहां पहुंचे लोगो ने इस अवधारणा को प्रमाणित भी किया है।
इस ग्रेविटी हिल को वहां के स्थानीय प्रशासन के जगह- जगह बोर्ड लगाकर चिन्हित भी किया है।
दुनिया में 29 से अधिक देशों की जगहों को ग्रैविटी हिल्स के रूप में पहचाना गया है।

आईये जाने वैज्ञानिक कारण-
वैज्ञानिक इस जगह के बारे में कई कारण देते हैं।
उनके अनुसार इस पहाड़ी के आसपास की क्षेत्रीय संरचना ”दृष्टि भ्रम” जैसा माहौल पैदा करती है जिससे नीचे की तरफ लुड़कती हुई वस्तु ऊपर की तरफ चढ़ती दिखाई देती है।
इसके अलावा दूसरा कारण यह दिया गया है कि दृष्टि भ्रम की स्थिति में कोई चीज अपेक्षाकृत छोटी या बड़ी दिखाई देती है।
इन सभी कारणों के अलावा एक कारण पहाड़ी क्षेत्रों में सड़कों के क्षैतिज तल का स्पष्ट न होना भी माना जाता है।
फिलहाल असली कारण जो भी हो लेकिन आम लोगो के बीच इसे चुंबकीय पहाड़ी के रूप में मान्यता मिली हुई है..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here