कश्मीर में संघर्ष में 11 की मौत, अमरनाथ यात्रा स्थगित

255

srinagar-curfew

हिज्बुल मुजाहिद्दीन के पोस्टर ब्वॉय बुरहान वानी के एक मुठभेड़ में मारे जाने के विरोध में घाटी में हिंसा भड़क गई और प्रदर्शनकारियों तथा सुरक्षा बलों के बीच संघर्ष में 11 लोग मारे गए, 50 लोग जख्मी हुए हैं। हिंसक भीड़ ने पांच भवनों में आग लगा दी, जिसमें तीन पुलिस प्रतिष्ठान हैं। इसके अलावा कुछ वाहनों में भी आग लगाई गई।

कश्मीर के कई हिस्सों में कफ्र्यू की तरह निषेधाज्ञा लगाई गई है जहां पूरी घाटी में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं स्थगित हैं और दक्षिण कश्मीर में मोबाइल टेलीफोनी सेवाएं बाधित हैं।

संवेदनशील स्थिति को देखते हुए जम्मू आधार शिविर से अमरनाथ यात्रा रोक दी गई है और घाटी की तरफ आज श्रद्धालुओं के नए जत्थे को रवाना नहीं किया गया।

त्राल में बुरहान के अंतिम संस्कार में हजारों लोग एकत्र हुए जहां उत्तरी कश्मीर के खादीनयार से दक्षिण के कुलगाम तक कई हिंसक प्रदर्शन होने की खबर है।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के वेरीनाग क्षेत्र में सुरक्षा बलों द्वारा प्रदर्शनकारियों पर कथित तौर पर गोली चलाने से 25 वर्षीय युवक आमिर बशीर की मौत हो गई।

उन्होंने कहा कि युवक को अस्पताल ले जाया गया, लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई।

एक अन्य युवक कल देर रात कैमोह इलाके में इन्हीं परिस्थितियों में मारा गया। अनंतनाग जिला अस्पताल के एक चिकित्सक ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर कहा कि जुबैर अहमद की छाती में कई गोलियां लगी थीं।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि 16 वर्षीय साकिब मंजूर को एसएमएचएस अस्पताल के चिकित्सकों ने तब ‘‘मृत घोषित’’ कर दिया जब कुछ युवक उसे गंभीर हालत में अस्पताल लेकर पहुंचे। वह गोलियों से गंभीर रूप से जख्मी था।

इसके अलावा आठ अन्य लोग मारे गए हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here