आतंकी बुरहान की मौत के बाद घाटी में तनाव जारी, अब 21 लोगों की मौत

251

kashmir-protest

हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के बाद कश्मीर घाटी में पैदा हुई तनावपूर्ण स्थिति अभी भी बनी हुई है. विरोध प्रदर्शन के दौरान भड़की हिंसा में एक पुलिसकर्मी समेत छह और लोग मारे गए. मरने वालों की संख्या 21 हो गई है. जबकि 200 से अधिक लोग घायल हुए हैं, जिसमें 96 सुरक्षाकर्मी हैं. घाटी में कर्फ्यू जैसी पाबंदी लागू है और मोबाइल इंटरनेट सेवाएं स्थगित  हैं.

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के नेतृत्व में हुई जम्मू-कश्मीर कैबिनेट की बैठक में हालात और सुरक्षा बलों के साथ झड़प में लोगों के मारे जाने को लेकर दुख जताया गया। सरकार ने वादा किया कि अगर सुरक्षा बलों की ओर से अनुचित ढंग से बल प्रयोग किया गया है तो उसकी जांच हागी। सरकार ने लोगों से अपील की है कि वे हिंसा भड़काने वालों के कुचक्र में नहीं फंसे।

कैबिनेट ने हुर्रियत कांफ्रेंस सहित सभी अलगाववादियों और नेशनल कांफ्रेंस, कांग्रेस और माकपा जैसी मुख्यधारा की पार्टियों से अपील की है कि वे राज्य में सामान्य स्थिति बहाल करने में मदद करें। दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने घाटी में हालात की समीक्षा की और मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से बात कर उन्हें हरसंभव मदद का आश्वासन दिया।

प्रदर्शन के दौरान भीड़ द्वारा मोबाइल बंकर वाहन को झेलम नदी में धकेल दिए जाने के कारण एक पुलिस ड्राइवर की मौत हो गयी जबकि कल एक थाने पर भीड़ के हमले के बाद लापता हुए तीन पुलिसकर्मियों का अबतक कुछ पता नहीं चला है. एक पुलिस अधिकारी के अनुसार एक अन्य घटना में कल रात पुलवामा जिले के त्राल में एक हेड कांस्टेबल के दोनों पैरों में आतंकवादियों ने गोली मार दी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here