आत्मविश्वास से लबरेज भारत के इरादे जीत की लय कायम रखने के

206

kohli
पहले टेस्ट में शानदार जीत से उत्साहित भारतीय टीम कल से यहां शुरू हो रहे दूसरे क्रिकेट टेस्ट में अनुभवहीन वेस्टइंडीज टीम पर अपना दबदबा बरकरार रखने के इरादे से उतरेगी ।

भारतीय टीम ने 2016 . 17 सत्र की उम्दा शुरूआत करते हुए उपमहाद्वीप के बाहर सबसे बड़ी जीत दर्ज की जब एंटीगा में वेस्टइंडीज को एक पारी और 92 रन से हराया । टीम इंडिया इस लय को श्रृंखला में आगे भी कायम रखना चाहेगी जो मुख्य कोच के तौर पर अनिल कुंबले की पहली श्रृंखला है ।

इस बार हालांकि चुनौती आसान नहीं होगी क्योंकि सबीना पार्क में हरी भरी पिच भारत का इंतजार करेगी जबकि एंटीगा में धीमी पिच थी जिस पर मैच चार दिन के भीतर खत्म हो गया था ।

पिछले रिकार्ड को देखें तो 2008 के बाद यहां कोई भी टेस्ट पांच दिन तक नहीं चला है । उसके बाद से यहां हुए पांचों टेस्ट चार दिन के भीतर खत्म हो गए जिनमें से एक 2011 में भारत ने 63 रन से जीता था ।

वेस्टइंडीज ने 2015 में यहां आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था और वह मैच चौथे दिन लंच तक ही चला था ।

यह कहना मुश्किल है कि हरी भरी पिच से किस टीम को अधिक खुशी होगी लेकिन मेजबान टीम को इससे मुकाबला संतुलित लगेगा । भारतीय टीम को भी आत्ममुग्धता से बचकर खेलना होगा क्योंकि अभी श्रृंखला में तीन टेस्ट बाकी हैं ।

भारत का बल्लेबाजी क्रम स्थिर लग रहा है लेकिन सलामी बल्लेबाज मुरली विजय की फिटनेस पर संशय है । अभी तक पता नहीं है कि वह दूसरा टेस्ट खेलेंगे या नहीं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here