सीमा रक्षकों को निलंबित करने पर लोकसभा में भाजपा सांसद ने राजनाथ को घेरा

667
chintamani
 मध्यप्रदेश के उज्जैन से सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीया ने शून्यकाल में यह मामला उठाते हुए कहा कि गत 14 मई को बांग्लादेश की सीमा पर सोने की तस्करी को रोकने के प्रयास के दौरान बीएसएफ के सुरक्षाकर्मियों की गोली से एक बंगलादेशी तस्कर की मौत हो गई। इस पर बीएसएफ के एक सहायक कमांडेंट और सात जवानों को निलंबित कर दिया गया।
डॉ. मालवीया ने कहा कि मैं गृहमंत्री को ध्यान दिलाना चाहूंगा कि अगर सरकार ही अपने सीमारक्षकों के मनोबल को तोड़ने का काम करेगी तो क्या होगा। उन्होंने मांग की कि सरकार सहायक कमांडेट एवं सातों जवानों को बहाल करे और सीमा की रखवाली में कर्तव्य पालन के उच्च मानदंडों के प्रदर्शन के लिए उन्हें सम्मानित करे।
उन्होंने कहा कि भारत एवं बांग्लादेश के बीच कई स्थानों पर पता ही नहीं चलता कि सीमा कहां बदल गई। बीएसएफ की मौजूदगी से सीमा का अंदाजा होता है। इस खुली सीमा के कारण ही घुसपैठ और सामानों की अवैध आवाजाही होती है। इन दिनों सोने की तस्करी जोरों पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here