युपी: BJP नेता ब्रजपाल तेवतिया पर हमले के मामले में 4 आरोपी गिरफ्तार, AK-47 से किया था हमला

146

Untitled

बीजेपी नेता ब्रजपाल तेवतिया पर जानलेवा हमले के मामले में ने चार आरोपियों को एसटीएफ ने गिरफ़्तार कर लिया है. पुलिस के मुताबिक, पकड़े गए चारों आरोपियों के नाम राम, राहुल जितेंद्र और निशांत हैं. हालांकि मुख्य आरोपी मनीष और मनोज अभी भी पुलिस की गिरफ़्त में नहीं आये हैं।

एसटीएफ़ सूत्रों के मुताबिक़, इस मामले के तार  1999 में राकेश हसनपुरिया का एक साथी सुरेश दीवान एनकाउंटर से जुड़े है। सुरेश ब्रजपाल तेवतिया की मुखबिरी की वजह से पुलिस एनकाउंटर में मारा गया था. उसके बाद सुरेश के बेटे मनीष और भतीजे मनोज ने इसका बदला लेने की ठान ली थी. सूत्रों की मानें तो बदमाशों ने यूपी के ही एक गैंग से AK 47 लेकर ब्रजपाल पर हमला किया. तेवतिया पर हमला 11 अगस्त की शाम को ग़ाज़ियाबाद के मुरादनगर थाना क्षेत्र में रावली मार्ग पर हमला में एके-47 से हुआ था. उन्हें छह गोलियां लगी थीं. फिलहाल वो नोएडा के फ़ोर्टिस अस्पताल में आईसीयू में भर्ती हैं.बदमाशों ने तेवतिया पर 100 राउंड फ़ायरिंग की. घटना के बाद मेरठ जोन के आईजी सहित वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे.
मेरठ जोन के आईजी सुरजीत पांडे के अनुसार  एक कार में सवार अज्ञात बदमाशों ने शाम करीब सात बजकर 20 मिनट पर ब्रजपाल तेवतिया और अन्य लोगों पर गोलियां चलाईं थी जिसमें तेवतिया सहित छह लोग घायल हुऐ थे मौके पर पहुंची पुलिस ने बदमाशों का पीछा भी किया था, लेकिन वे फरार होने में कामयाब रहें.

गंभीर अवस्था में तेवतिया और अन्य पांच लोगों को पहले गाजियाबाद के सर्वोदय अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जिसके बाद अस्पताल के डॉक्टरों ने तेवतिया को नोएडा स्थित फोर्टिस अस्पताल भेज दिया था. केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा, वीके सिंह, राजनाथ सिंह के पुत्र पंकज सिंह भी उनका हालचाल जानने अस्पताल पहुंचे थे.

तेवतिया पर हुए हमले के मामले में एक महिला कॉन्स्टेबल समेत छह लोगों को हिरासत में लिया गया था. पुलिस ने इस मामले में बागपत में तैनात महिला कॉन्स्टेबल सुनीता को हिरासत में लेकर पूछताछ की. सुनीता राकेश हसनपुरिया की पत्नी है. हसनपुरिया 2003 में पुलिस एनकाउंटर में मारा गया था. जिन छह अन् लोगों को हिरासत में लिया गया था, उनमें से दो के नाम शेखर चौधरी और मनोज हैं. ये दोनों महरौली के रहने वाले हैं. पुलिस के मुताबिक, रेकी के बाद वारदात को अंजाम दिया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here