OMG : इस देश में टॉपलेस मॉडल्स अब करेंगी ट्रैफिक पर नियंत्रण

751

topless

रूस, जहां सबसे ज्यादा रोड एक्सीटेंड के मामले सामने आते हैं, वहां हादसों को कम करने के लिए बड़ा ही अजीबो गरीब तरीका निकाला गया है। इस एक्सपेरिमेंट के तहत टॉपलेस मॉडल्स को सड़क किनारे साइनबोर्ड के साथ खड़ा किया जाता है। जिन साइनबोर्ड पर रोड सेफ्टी रूल्स के बारे में संदेश लिखे होते हैं। इन मॉडल्स को उन जगहों पर खड़ा किया जाता है जहां सबसे ज्यादा एक्सीडेंट की घटनाएं देखने को मिलती हैं।

रोड सेफ्टी के लिए टॉपलेस मॉडल्स इस अनोखे कदम के पीछे रशियन ट्रैफिक अथॉरिटी की दलील है कि टॉपलेस मॉडल्स को देखकर लोग अपने-आप ही वाहनों की रफ्तार कम हो जाएगी। अथॉरिटी ने एक्सपेरिमेंट के तौर पर रोड सेफ्टी कैंपेन की शुरूआत की है।

अभी इस कैपेंन की शुरूआत सिवर्नी गांव में की गई है। रिपोर्ट की माने तो ये प्रयोग सफर रहा है। टॉपलेस मॉडल्स द्वारा रोड सेफ्टी कैपेंन के बाद से हादसों में काफी गिरावट आई है। लोग रशियन ट्रैफिक अथॉरिटी के इस कदम की सराहना कर रहे हैं, हलांकि कई लोग ऐसे भी है, जो इस कदम की आलोचना कर रहे है। हादसों में आई कमी अथॉरिटी की माने तो उन्हें ये आइडिया एक वीडियो देखकर आया था, जिसे कुछ लोगों ने जारुकता अभियान के लिए बनाया था। इस वीडियो को देखने के बाद अथॉरिटी ने इसे अमल में लाने की सोची।

साल 2013 से ही इस तरह के अभियान रूस में रोड एक्सीटेंड को रोकने के लिए अमल में लाया जा रहा है। गौतलब है कि डब्लूएचओ ने भी रूस को सड़क हादसों के लिहाज से सबसे खतरनाक देश माना है। सशियन ड्राइवर्स को दुनिया के सबसे खतरनाक ड्राइवर्स बताया गया है। यहां सबसे ज्यादा हादसे ओवर स्पीड की वजह से होते है। ऐसे में ये अजीबो गरीब तरीका काफी काम कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here