भारत तोड़ सकता है सिन्धु समझौता, ऐसा हुआ तो पाक हो जायेगा बर्बाद, पड़ेगा भीषण अकाल

592

sindhu-river

उरी हमले के बाद से भारत ने पाक के खिलाफ अपने तेवर पूरी तरह से सख्त कर लिए हैं, और पाकिस्तान को हर मोर्चे पर घेरने की शुरुवात भी कर दी है, सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार भारत पाकिस्तान से व्यापारिक संबंध ख़त्म करने पर भी विचार कर रहा है | इसके अलावां आज भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरुप ने संकेत दिए हैं कि भारत पाकिस्तान के साथ सिन्धु जल सम्जहुता भी तोड़ सकता है, विकास स्वरुप ने इस समझौते पर बोलते हुए आज कहा कि किसी भी समझौते के लिए दोनों पक्षों का भरोसा और सहयोग ज़रूरी है किसी भी सम्जहुते को एकतरफ़ा नहीं निभाया जा सकता |

स्वरुप ने कहा उरी हमले के बाद पाक पर कार्यवाही के मामले बोलते हुए कहा कि हमारा काम खुद ही बोलता है, और हमारी प्रतिक्रया का परिणाम दिख भी रहा है, संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में कश्मीर को ही केंद्र में रखा पर दुनिया के किसी भी देश ने पाक की बात कोई महत्त्व नहीं दिया |

india

सिंधु नदी संधि को आधुनिक विश्व के इतिहास का सबसे उदार जल बंटवारा माना जाता है. इसके तहत पाकिस्तान को 80.52 फीसदी पानी यानी 167.2 अरब घन मीटर पानी सालाना दिया जाता है, नदी की ऊपरी धारा के बंटवारे में उदारता की ऐसी मिसाल दुनिया में और‍ किसी जल समझौते में नहीं मिलती. 1960 में हुए सिंधु समझौते के तहत उत्तर और दक्षिण को बांटने वाली एक रेखा तय की गई है, जिसके तहत सिंधु क्षेत्र में आने वाली तीन नदियों का नियंत्रण भारत और तीन का पाकिस्तान को दिया गया है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here