मोदी सरकार मुसलमानों को साथ लाने के लिए मुस्लिम पंचायत

165

modi-nakvi

मोदी सरकार ने अल्पसंख्यकों और दलितों को लुभाने के लिए ‘पंचायत’ आयोजित करने का फैसला किया है। ये पंचायतें मुस्लिमों और दलितों के लिए होंगी। यूपी और गुजरात में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, ऐसे में मोदी सरकार का यह फैसला काफी अहम माना जा रहा है। पहली पंचायत हरियाणा के मेवात इलाके में 29 सितंबर को की जाएगी। इस पंचायत की अध्यक्षता अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी करेंगे। भाजपा सूत्रों के मुबातिक नकवी अगले तीन-चार महीने पंचायत आयोजित करने के लिए कई राज्यों में जाएंगे, ताकि मुस्लिमों और दलितों को एनडीए के साथ लाया जा सके।

दरअसल केंद्र सरकार की मानें तो पिछली सरकार ने मुस्लिमों के उत्थान के कोई ऐसा कदम नहीं उठाया जिससे उनकी समस्याएं दूर हों. मोदी सरकार का कहना है कि वो मुस्लिम समुदाय की तमाम समस्याओं को सुलझाने के लिए तैयार है. ऐसे में ‘प्रगतिशील पंचायत’ के जरिये देशभर में मुस्लिमों से मिलकर उनकी समस्याएं सुनी जाएंगी और उसका हल किया जाएगा.

वहीं कांग्रेस ने इस केवल बीजेपी का चुनावी हथकंडा करार दिया, कांग्रेस नेता मीम अफजल ने कहा कि यूपी में विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखकर बीजेपी इस तरह की बातें कर रही है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा से मुस्लिम समुदाय की भलाई के बारे में सोचा है और काम किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here