फेरा उल्लंघन मामले में माल्या के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

135

malya

फेरा उल्लंघन के सम्मन को कथित रूप से स्वीकार नहीं करने से संबंधित एक मामले में दिल्ली की एक अदालत ने कारोबारी विजय माल्या के खिलाफ आज गैर जमानती वारंट जारी किया और उनके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई शुरू करने की चेतावनी दी।

अदालत ने कहा कि माल्या की वापस लौट्रने की इच्छा नहीं है और इस देश के कानून के प्रति भी उनके मन में कोई सम्मान नहीं है।

अदालत ने कहा कि शराब कारोबारी माल्या के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई शुरू करनी होगी क्योंकि कई मामलों में उनके खिलाफ मुकदमे चल रहे हैं और वह इनमें व्यक्तिगत रूप से पेश नहीं हुए हैं।

मुख्य मेट्रोपोलिटन मेजिस्ट्रेट सुमित दास ने यह भी कहा कि माल्या की याचिका, जिसमें उन्होंने कहा है कि वह भारत लौटना चाहते हैं लेकिन ऐसा नहीं कर सकते क्योंकि भारतीय अधिकारियों ने उनका पासपोर्ट रद्द कर दिया है, वह ‘‘बदनियती’’ और ‘‘कानून की प्रक्रिया का दुरूपयोग करने के उद्देश्य’’ से दायर की गई है।

दास ने कहा कि अदालत को महसूस होता है कि उनकी यहां आने और अदालत में पेश होने की कोई मंशा नहंीं है और इस देश के कानून के प्रति उनके मन में जरा भी सम्मान नहीं है।

अदालत ने कहा, ‘‘आरोपी के आचरण को देखते हुए, उसके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई करने की प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश देना पड़ेगा। आरोपी के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया जाए। मामले की अगली सुनवाई 22 दिसंबर को होगी।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here