……ऐसे जगह चुप रहना ही बेहतर, जरुर जानिए है कामयाब लाइफ में

357

images-2

कभी कभी चुप रहना ही बेहतर होता है, या यु कहे की चुप रहना हमारी मजबूरी बन जाती है|

हम आपको बताते है की कौन से जगह चुप रहना चाहिए…

  • काम से ही इंसान की पहचान होती है, और रोजमर्रा में कई अवसर ऐसे भी आते हैं जब व्यक्ति की ज़बान, उसके ज्ञान, आचार, व्यवहार एवं व्यक्तित्व को दर्शाने का मुख्य माध्यम बन जाती है।
  • जिन बातो का कोई मतलब नही रहता उनपे चुप ही रहना बेहतर होता है|

     

  • जब तक किसी विषय की पूरी जानकारी व ठोस प्रमाण न हो, अपने आप को चुप रखना ही बेहतर होता है। ऐसे में बहस करने से आपकी छवि ही धूमिल होगी।
  • एक सेहतमंद वार्तालाप के लिये जितना जरूरी लोगों को अपनी बात बताना होता है, उससे भी जरूरी होता है कि जब वे बोल रहें हों तो चुप रह कर शांती और ध्यान से उनकी बात को सुनाना।
  • ड्राइविंग करते समय भी शांत रहने में ही भलाई है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here