पाकिस्तान: हिन्दुओं के लिए कोई वैवाहिक कानून न होने से उन्हें भरी दिक्कतें

241

पाक हिन्दू
मौजूदा समय में पाकिस्तान में हिन्दुओं की सख्या लाखों में है लेकिन उनके लिए कोई वैवाहिक कानून न होने की वजह से बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है खासकर हिन्दू महिलाओं को | इसी विषय पर चिंता व्यक्त करते हुए पाकिस्तानी अखबार डॉन ने आज अपने सम्पादकीय में ‘हिन्दू मैरिज बिल’ टाइटल से एक लेख छपा है |
डॉन के मुताबिक हिंदुओं के लिए एक भी कानून न होने की वजह से यहां पर बसे हिंदुओं और महिलाओं के बीच कई तरह के मुद्दे परेशानी की तरह बनकर रह गए हैं। अख़बार ने लिखा अल्पसंख्यकों के हितों की रक्षा करने की बात आती है तो कई नेता बयान दे डालते हैं। हिंदुओं को अधिकारियों के सामने अपने रिश्तों को साबित करने में हिंदू महिलाओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। विधवाओं को किसी भी तरह की कोई सुविधाएं नहीं मिली हैं। शादी का कोई भी आधिकारिक प्रमाण नहीं होने की वजह से बैंक खाता खोलने से लेकर वीजा के लिए आवेदन करना तक लगभग असंभव होकर रह जाता है।
इन सब समस्यायों के अतिरिक्त पाकिस्तानी हिन्दुओं को धार्मिक कट्टरता का भी शिकार होना पड़ता है उनके लिए कोई वैवाहिक कानून न होने की वजह से उन्हें गन्दी नज़रों से देखा जाता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here